अमित शाह ने बोला विपक्ष पर हमला, कहा-मोदी के डर से सांप-नेवला, कुत्ते-बिल्ली सब आ रहे हैं साथ

मुंबई: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को मुंबई बीजेपी की स्थापना दिवस के मौके पर विपक्षी पार्टियों पर जमकर हमला बोला. उन्होंने पीएम मोदी की लोकप्रियता की तुलना ‘बाढ़’ से करते हुए कहा कि उनके आगे सभी पेड़ धराशायी होकर गिर गए हैं. उन्होंने इस दौरान विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि जिस तरह बाढ़ की पानी से बचने के लिए नेवला, बिल्ली, कुत्ते, शेर, चीता सब एक नाव पर सवार हो जाते हैं. ठीक उसी तरह मोदी लहर को देखते हुए विपक्षी पार्टियां भी साथ आ गई हैं.

हालांकि उन्होंने बाद में कहा कि उनकी मंशा विपक्षी दलों की तुलना जानवरों के साथ करने की नहीं थी. अमित शाह ने कहाकि मेरा मतलब मोदी के डर से वैचारिक समानता नहीं रखने वाले राजनीतिक दलों के साथ आने से था.

उन्होंने कहाकि 2019 के लिए उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. विपक्षी एकजुटता की कोशिश हो रही है. जब भारी बाढ़ आएगी सब कुछ बह जाएगा. केवल एक वटवृक्ष बचेगा और बढ़ते पानी से खुद को बचाने के लिए सांप, नेवला, कुत्ते और बिल्लियां और अन्य जानवर निकलेंगे.
शाह ने कहाकि मोदी बाढ़ से बचने के लिए सभी बिल्ली-कुत्ते, सांप और नेवला मुकाबला करने साथ आ रहे हैं. परोक्ष रूप से वह अगले आम चुनाव में मोदी के नेतृत्व में भाजपा से मुकाबले के लिए टीआरएस, तृणमूल कांग्रेस और तेदेपा जैसे विभिन्न दलों की ओर से गठबंधन की कोशिशों का हवाला दे रहे थे.

बाद में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहाकि सांप और नेवला में कुछ भी समानता नहीं है. मैं नाम लेता हूं – समाजवादी पार्टी और बसपा, तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस, चंद्रबाबू नायडू और कांग्रेस, उनमें कुछ भी समान और वैचारिक समानता नहीं है, लेकिन साथ आ रहे हैं.

उन्होंने कहा कि दलितों की भावनाओं को आहत करने के लिए विपक्ष द्वारा झूठें बयान दिए जा रहे हैं. भारतीय जनता पार्टी ना ही आरक्षण हटाएगी और ना ही किसी को हटाने देगी, राजनीतिक लाभ के लिए विपक्ष का भ्रान्ति फैलाना एक निचले स्तर की राजनीति का उदाहरण है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *