दुनिया में सबसे ज़्यादा सैलरी पाने वाले CEO बने निकेश, जानिए कितना मिला सलाना पैकेज…

नई दिल्ली: भारत के निकेश अरोड़ा दुनिया में सबसे ज़्यादा तनख़्वाह पाने वाले सीईओ बन गए हैं. इससे पहले, अरोड़ा सॉफ्ट बैंक और गूगल में काम कर चुके हैं. उनको पालो अल्टो नेटवर्क के सीईओ की जिम्मेदारी मिली है. 50 साल के निकेश को कंपनी ने 12.8 करोड़ डॉलर यानी 857 करोड़ रुपए का पैकेज दिया है.

अब वो पालो अल्टो नेटवर्क के नए सीईओ बने हैं और उनकी सैलरी सालाना 12.8 करोड़ डॉलर यानी लगभग 857 करोड़ रुपए होगी. पालो अल्टो साइबर सिक्योरिटी कंपनी है. टेक्नोलॉज़ी सेक्टर में निकेश अरोड़ा का लंबा करियर रहा है.

निकेश का सालाना वेतन 6.7 करोड़ रुपए होगा और इतना ही उन्हें बोनस मिलेगा. इसके साथ ही उन्हें 268 करोड़ रुपए के शेयर मिलेंगे जिन्हें वो सात साल तक नहीं बेच पाएंगे. पालो अल्टो के शेयर की क़ीमत को निकेश सात सालों के भीतर 300 फ़ीसदी बढ़ाने में कामयाब रहेंगे तो उन्हें 442 करोड़ रुपए और मिलेंगे.

निकेश अरोड़ा ने मार्क मिकलॉकलीन की जगह ली है. मार्क 2011 से लेकर इस हफ़्ते तक पालो अल्टो के सीईओ थे. मार्क कंपनी में बोर्ड के वाइस चेयरमैन बने रहेंगे. निकेश अरोड़ा बोर्ड के चेयरमैन भी होंगे.

निकेश के पहले ऐपल के सीईओ टिम कुक टेक्नोलॉज़ी की दुनिया में सबसे ज़्यादा वेतन पाने वाले सीईओ थे. उनका सालाना पैकेज 119 मिलियन डॉलर का है.

2014 में जब निकेश ने गूगल को छोड़ा था तब 50 मिलियन डॉलर की सालाना सैलरी पर काम कर रहे थे. इसके बाद निकेश ने सॉफ़्ट बैंक ज्वाइन किया था और यहां उन्होंने 483 मिलियन डॉलर के शेयर ख़रीदे थे. निकेश यहां जून 2016 तक रहे थे.

निकेश के करियर में उस वक़्त छलांग आई जब उन्हें गूगल में नौकरी मिली. निकेश 2004 से 2007 सात तक गूगल के यूरोप ऑपरेशन के प्रमुख रहे थे.

निकेश अरोड़ा का संक्षिप्त परिचय

50 साल के निकेश अरोड़ा का जन्म 6 फ़रवरी 1968 को उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ियाबाद में हुआ था. निकेश के पिता इंडियन एयरफ़ोर्स में ऑफिसर थे. निकेश ने स्कूल की पढ़ाई दिल्ली में एयरफ़ोर्स स्कूल से ही की थी.


इसके बाद उन्होंने ग्रैजुएशन बीएचयू आईटी से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में 1989 में किया था. ग्रैजुएशन के ठीक बाद विप्रो में नौकरी शुरू की, लेकिन उन्होंने जल्द ही छोड़ दिया.

नौकरी छोड़ने के बाद निकेश आगे की पढ़ाई करने अमरीका चले गए. निकेश ने बोस्टन की नॉर्थईस्टर्न यूनिवर्सिटी से एमबीए किया.
2015 में निकेश को ग्लोबल इंडियन में श्रेष्ठ काम के लिए ईटी कॉर्पोरेट सम्मान से नवाज़ा गया था. निकेश की पहली शादी किरण से हुई थी और उनसे एक बेटी है. किरण से तलाक़ के बाद 2014 में उन्होंने आयशा थापर से शादी की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *