You Matter Most

खुशखबरी: अब वेटिंग ई-टिकट वाले भी कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा, SC ने खारिज की रेलवे की अर्जी

1 min read

नई दिल्ली: अगर आप भी ऑनलाइन रेलवे टिकट बुक कराते हैं तो यह खबर आपके लिए खास है. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं. क्योंकि रेलवे की अर्जी को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. अब वेटिंग ई-टिकट वाले यात्रियों को परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है. अब जिन यात्रियों के पास रेलवे की ई-टिकट होगी उनका नाम वेटिंग लिस्ट में होगा और वे यात्रा कर सकेंगे.


दरअसल, रेलवे के एक मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने ये अहम फैसला सुनाया है. जिसके तहत अगर किसी भी रेल यात्री के पास ई-टिकट है और उसका नाम वेटिंग लिस्ट में शामिल है, तो उन्हें भी यात्रा करने का पूरा अधिकार रहेगा. हालांकि अब तक सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर रेलवे की ओर से कोई बयान नहीं आया है.


आपको बता दें कि साल 2014 में दायर एक याचिका पर सुनवाई के दौरान दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि काउंटर टिकट धारकों की तरह वेटिंग वाले ई-टिकट वालों यात्रियों का भी टिकट कैंसिल नहीं होना चाहिए. हाईकोर्ट के इस फैसले के खिलाफ रेलवे ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी. हालांकि अब सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में ई-टिकट वालों को भी राहत दी है.

इसके साथ ही कोर्ट ने रेलवे को यह भी आदेश दिया है कि वह जल्द से जल्द एक ऐसी स्कीम लागू करे जिससे कि यह सुनिश्चित किया जा सके कि फर्जी नामों से टिकट बुक कराने वालें एजेंट्स पर रोक लगाई जा सके.


जस्टिस मदन बी लोकुर की खंडपीठ ने दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश को रद किए जाने की याचिका को खारिज कर दिया. याचिका रद्द किए जाने के बाद अब दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के मुताबिक रेलवे को नियम बनाने पड़ेंगे. जिससे दोनों तरह की टिकटों के बीच के अंतर को खत्म किया जा सके. बता दें कि हाईकोर्ट ने कहा था कि काउंटर टिकट और ई-टिकट लेने वाले यात्रियों के बीच भेदभाव नहीं किया जा सकता है.

रेलवे के अभी तक के नियम के अनुसार वेटिंग ई-टिकट रखने वाले यात्रियों को ट्रेन मे चढ़ने की इजाजत नहीं मिलती थी. जबकि काउंटर टिकट रखने वाले लोगों पर ऐसी कोई रोक नहीं थी. इसलिए अगर कोई कन्फर्म टिकट वाला व्यक्ति नहीं आता था तो वह सीट इन्हें दे दी जाती थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *