You Matter Most

साइकिल के बाद गठबंधन की तैयारी में अखिलेश

1 min read

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में पिछले कई महीनों से जो असमंजस की स्थिति बनी हुई थी। वह तो फिलहाल थम गया है। साइकिल और पार्टी पर कब्जा जमाने के बाद जब अखिलेश यादव मुलायम से मिलने पहुंच तो चाचा शिवपाल पहले से ही मौजूद थे।लेकिन ये मुलाकात सिर्फ पांच मिनट में ही खत्म हो गई।

इस मुलाकात के चंद घंटे बाद मुलायम ने 38 लोगों की लिस्ट अखिलेश को भेज दी। ये वो नाम हैं, जिन्हें मुलायम चुनाव में टिकट देना चाहते हैं।मुलायम की 38 लोगों की लिस्ट में सबसे ऊपर मुलायम की दूसरी पुत्रवधु अपर्णा यादव का नाम है। अपर्णा लखनऊ कैंट से टिकट चाहती है। इसके बाद नारद राय, अंबिका चौधरी, ओम प्रकाश सिंह, शादाब फातिमा और शिवपाल यादव की जगह उनके बेटे आदित्य यादव को जसवंतनगर से टिकट देने की मांग की है। अखिलेश की इस कसरत का मकसद ये है कि वो अब मुलायम से सीधे-सीधे अब कोई टकराव नहीं चाहते हैं। और शायद अखिलेश इस बार पिता के द्वारा दिए गए नामों पर अपनी सहमति दे दें।


हालांकि पहले से फूंक-फूंक कर कदम रख रहे रामगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट में केवियट दायर कर दी है। यानि कि अगर चुनाव आयोग के फैसले के खिलाफ कोई याचिका दायर की जाती है तो कोई भी एक्स-पार्टी ऑर्डर नहीं दिया जाएगा। अखिलेश यादव गुट को सुनने के बाद ही कोई आदेश दिया जा सकेगा।

अखिलेश यादव ने मंगलवार को कहा कि जल्द ही लखनऊ में गठबंधन का ऐलान होगा। उन्होंने कहा कि मतभेद कुछ ही सीटों पर थे और हमें अब लोगों के बीच जाना है। माना जा रहा है कि कुल 403 विधानसभा सीटों में से समाजवादी पार्टी कांग्रेस समेत सभी दलों के लिए करीब 135 सीटें छोड़ सकती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *